Sukanya Samriddhi yojana Eligibility, Documents List, benefits Account Opening Process

What is Sukanya Samriddhi yojana, its Eligibility and Account Opening Process

 Sukanya Samriddhi yojana Eligibility, Documents List, benefits Account Opening Process

Table of Contents

Sukanya Samriddhi yojana

आधुनिक युग में लड़कियों की शादी के लिए पैसे बचाने की पारंपरिक सोच खत्म हो गई है। अब लोग अपनी लड़कियों के उज्ज्वल भविष्य और करियर के लिए बचत करते हैं। बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के एक भाग के रूप में भारत सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना माता-पिता को अपनी बालिकाओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए बचत करने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए एक कदम है, यह आयकर लाभ और कर-मुक्त रिटर्न के साथ एक बालिका के लिए एक छोटी जमा योजना है। यहां आपको सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में जानने की जरूरत है।

What is sukanya samriddhi yojana

भारत सरकार द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के तहत बालिकाओं के लिए उनकी भविष्य की वित्तीय जरूरतों के लिए बचत को प्रोत्साहित करने के लिए एक योजना शुरू की गई है। एक छोटी जमा योजना जिसमें आप नियमित जमा कर सकते हैं और ब्याज कमा सकते हैं।

Eligibility for opening an account

  • यह खाता केवल एक बालिका के लिए खोला जा सकता है
  • खाता खोलते समय जन्म प्रमाण पत्र जमा करना होगा माता-पिता या कानूनी अभिभावकों का पहचान और पता प्रमाण प्रस्तुत करना होगा।
  • यह खाता लड़की के जन्म के बाद 10 साल की उम्र तक खोला जा सकता है।
  • जैविक माता-पिता या कानूनी अभिभावक केवल लड़की के नाम से ही खाता खोल सकते हैं।
  • 18 साल के बाद लड़की की शादी होने तक खाता लगभग 21 साल तक खुला रहता है।

Minimum amount to be deposited

एक साल में अकाउंट एक्टिव रखने के लिए कम से कम 250 रुपये जमा करने होंगे। खाता खोलने की तारीख से 15 साल तक अधिकतम राशि 1.5 लाख रुपये जमा की जा सकती है।

Documents required for opening an account

  1. बालिका का जन्म प्रमाण पत्र
  2. माता-पिता या अभिभावक की फोटो आईडी
  3. पते का सबूत
  4. अन्य दस्तावेज जैसे पैन, आधार, आदि

How to open sukanya samriddhi account

  1. खाताधारक और संयुक्त धारक के नाम जैसे सभी विवरणों के साथ खाता खोलने का फॉर्म भरें।
  2. तस्वीरों के साथ आवश्यक दस्तावेज संलग्न करें
  3. 250- 1.5 लाख . के बीच प्रारंभिक राशि जमा करें

Tax benefits

सुकन्या समृद्धि योजना कर लाभ के साथ आती है। इस योजना में मूलधन, ब्याज, मैच्योरिटी राशि ये सभी टैक्स फ्री हैं।

Sukanya smridhi yojana interest rates

इस योजना के लिए ब्याज दरें सरकार द्वारा तिमाही आधार पर तय की जाती हैं क्योंकि यह एक छोटी बचत योजना है।

Maturity period of the scheme

यह योजना लड़की के 21 वर्ष की होने तक खुली रहती है। 18 साल की उम्र के बाद लड़की की शादी होने पर यह परिपक्व हो सकता है। 15 साल के लिए जमा करने की आवश्यकता होती है, उसके बाद खाता खुला रहता है, भले ही कोई जमा न किया गया हो।

आपकी बेटी कम उम्र की है, तो तमाम सरकारी योजनाओं में सुकन्या समृद्धि योजना सबसे अच्छी है। अगर आप अपनी बेटी के नाम पर इस स्कीम में निवेश शुरू करेंगे, तो आपको न केवल सबसे ज्यादा ब्याज मिलेगा, बल्कि इनकम टैक्स की बचत का फायदा भी मिलेगा। अगर सुकन्या समृद्धि योजना में सही तरीके से निवेश किया जाए, तो बेटी के 21 साल के होने पर आपके पास 63 लाख रुपये से ज्यादा का फंड होगा। अगर आप सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश शुरू करना चाहते हैं, तो आइये यहां पर पूरी जानकारी लेते हैं।

पहले जानें क्या है सुकन्या समृद्धि योजना

मोदी सरकार ने 2015 में सुकन्या समृद्धि योजना शुरू की थी। इस स्कीम में देश का कोई भी नागरिक अपनी बेटी के नाम पर निवेश शुरू कर सकता है। जब बेटी 21 साल की होती है, तो यह पूरा पैसा सरकार बेटी को देती है। इस वक्त सुकन्या समृद्धि योजना के तहत 7.6 फीसदी का ब्याज दिया जा रहा है।

जानिए कितनी बेटियों के नाम खुल सकता है अकाउंट

वैसे नियम के अनुसार कोई भी व्यक्ति अपनी 10 साल तक की 2 बेटियों के नाम पर सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट खोल सकता है। लेकिन अगर दूसरी बेटी जुड़वा पैदा हुई है, तो इस स्थिति में 3 बेटियों के नाम पर भी सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट खोला जा सकता है। 

जानिए कितने रुपये से शुरू हो सकता है सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट

सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट न्यूनतम 250 रुपये से खोला जा सकता है। वहीं इसमें एक वित्तीय वर्ष के दौरान अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक का निवेश किया जा सकता है। इस वक्त सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट में 7.6 फीसदी का ब्याज दिया जा रहा है। इस स्कीम के तहत पूरे वित्तीय वर्ष के दौरान जो भी निवेश किया जाएगा उसका फायदा 80सी के तहत इनकम टैक्स बचाने के लिए किया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना का पूरा फायदा कैसे लें

अगर आप 1 साल की बेटी के नाम पर सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट खुलवाते हैं, तो सबसे ज्यादा फायदा मिलता है। इसके नियम के तहत 10 साल तक की बेटी के नाम पर सुकन्या समृद्धि योजना खाता खुल सकता है। लेकिन अगर 1 साल तक की बेटी के नाम पर खाता खोला जाता है, तो यह पैसा ज्यादा समय तक निवेशत रहता है, जिससे स्कीम खत्म होने के बाद ज्यादा पैसा मिलता है। बेटी जैसे ही 21 साल की होती है, उसके नाम पर जमा पैसा सरकार दे देती है। ऐसे में 1 साल तक की बेटी के नाम पर जमा पैसा 21 साल तक जमा रहता है, वहीं 10 साल की बेटी के नाम पैसा केवल 11 साल ही जमा होता है।

जानिए कैसे तैयार होता 63 लाख रुपये का फंड

अगर आप सुकन्या समृद्धि योजना का सबसे ज्यादा फायदा उठाना चाहते हैं, तो 2 बातें याद रखें। पहला बेटी की 1 साल में ही खाता खोल दें। दूसरा हर साल 1.5 लाख रुपये जमा करें। अगर आप ऐसा करते हैं, तो बेटी के 21 साल का होने पर आपको 63.65 लाख रुपये मिलेगा।

जानिए कम पैसा जमा करने पर कितना पैसा मिलेगा

अगर आपकी बेटी 1 साल की है, और हर माह केवल 1000 रुपये (साल में 12000 रुपये) ही जमा करते हैं, तो सुकन्या समृद्धि योजना पूरी होने पर आपको 5.09 लाख रुपये मिलेगा। 

जानिए 2000 रुपये महीने के निवेश पर कितना पैसा मिलेगा

अगर आपकी बेटी 1 साल की है, और हर माह केवल 2000 रुपये (साल में 24000 रुपये) ही जमा करते हैं, तो सुकन्या समृद्धि योजना पूरी होने पर आपको 10.18 लाख रुपये मिलेगा।

जानिए 2000 रुपये महीने के निवेश पर कितना पैसा मिलेगा

अगर आपकी बेटी 1 साल की है, और हर माह केवल 3000 रुपये (साल में 36000 रुपये) ही जमा करते हैं, तो सुकन्या समृद्धि योजना पूरी होने पर आपको 15.27 लाख रुपये मिलेगा।

जानिए 2000 रुपये महीने के निवेश पर कितना पैसा मिलेगा

अगर आपकी बेटी 1 साल की है, और हर माह केवल 4000 रुपये (साल में 48000 रुपये) ही जमा करते हैं, तो सुकन्या समृद्धि योजना पूरी होने पर आपको 20.36 लाख रुपये मिलेगा।

लंबी अवधि का निवेश विकल्प है सुकन्या योजना

सुकन्या बचत योजना (Sukanya Samridhi Scheme) लंबी अवधि के निवेश को बढ़ावा देती है। बेटियों के के लिए शुरू की गई इस योजना में निवेश किए गए पैसे 3 गुना रिटर्न देते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना निवेश के अन्य विकल्पो की तुलना में जैकी की पीपीएफ, एफडी, एनएससी, आरडी में बेहतर ब्याज दर प्रदान करती है। स्माल सेविंग्स योजनाओं में यह सबसे ज्यादा ब्यजा देती है।

7.6 प्रतिशत है ब्याज दर (Interest rate of Sukanya Samridhi Scheme)

सुकन्या समृद्धि योजना में निवेश पर सरकार 7.6 प्रतिशत का सालाना ब्याज दे रही है। इस निवेश योजना की मैच्योरिटी पिरियड बालिका के 21 साल तक होने तक की उम्र है। इस निवेश योजना में अभिवावकों को 14 साल तक ही निवेश करना होता है। बाकी बचे साल के लिए सरकार जमा राशि पर ब्याज जोड़ती रहती है। सुकन्या योजना की खास बात यह है कि इस योजना में निवेश की गई राशि मैच्योरिटी पर 3 गुना रिटर्न देती है (SSY Return)। वर्तमान में दी जाने वाली ब्याज दरों से कोई भी अभिवावक 64 लाख रुपए तक की रकम इकट्ठा कर सकता है। सरकार हर तीन महीने में ब्याज दरों की समीक्षा करती है। इस योजना में निवेश की कुल राशि और ब्याज दोनों टैक्स फ्री होता है। टैक्स में यह छूट इनकम टैक्स की धारा 80सी के तहत होती है।

सुकन्या समृद्धि योजना : जानिए कैसे मिलता है तीन गुना रिटर्न

खाते को किया जा सकता है ट्रांसफर
सुकन्या समृद्धि योजना का खाता एक बार खुलवाने के बाद इसे भारत में कहीं भी ट्रांसफर कर सकते हैं। (Sukanya Scheme Investment benefit) अगर कोई पैरेंट अपने नौकरी वाले शहर में सुकन्या खाता खुलवाया है और अब किसी और शहर में अपना निवास बदलना पड़ रहा है तो, सुकन्या खाते को ट्रांसफर कर सकते हैं। अगर निवाश बदलने का सूबूत है तो खाता ट्रांसफर फ्री में किया जाता है नहीं तो 100 रुपए की फीस देना होता है।

कब मिलेगा पैसा

सुकन्या स्कीम में निवेश की गई राशि तब मैच्योर होती है (Sukanya Scheme maturity period) जब बेटी 21 साल की हो जाती है। योजना में निवेश किए गए पैसे को बेटी के 18 साल की उम्र तक निकाला नहीं जा सकता है। 18 साल की उम्र के बाद भी योजना में निवेश किए गए राशि की केवल 50 प्रतिशत राशि ही निकाली जा सकती है। बेटी के 21 साल के होने के बाद पूरा पैसा मिलता है। आप मैच्योरिटी की राशि एकमुश्त या फिर इंस्टालमेंट में निकाल सकते हैं।

250 रु से कर सकते हैं निवेश

सुकन्या समिद्धि योजना की खास बात यह है कि इसमें आप 250 रुपये से निवेश शुरू कर सकते है। सरकार इस योजना में ब्‍याज अन्‍य योजनाओं के मुकाबले अच्छी देती है। अगर आप सुकन्या योजना में निवेश करते हैं तो आपको टैक्स में भी बचत होगी।

7.6 फीसदी मिल रहा है ब्याज

केन्द्र सरकार सुकन्या स्मृद्धि योजना पर 7.6 फीसदी के दर से सालाना ब्याज दे रही है। इस योजना में एक वित्त वर्ष में 1.5 लाख रुपये तक निवेश किया जा सकता हैा। अकाउंट ओपन होने के बाद आपको हर वर्ष कम से कम 250 रुपए जरूर भरेन पड़ेगे नहीं तो आपको 50 रुपए जुर्माना भरना पड़ेगा।

10 साल से कम उम्र के बच्चियों के नाम खुलेगा खाता

अगर आपकी बेटी 10 साल से कम उम्र की है, तो उसके नाम पर सुकन्या खाता खुलवा सकते है। इस स्कीम के तहत आप केवल एक बेटी के नाम पर ही खाता खुलवा सकते हैं। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता किसी पोस्ट ऑफिस या बैंक में खुलवा सकते हैं।

कब मिलेगा पैसा

इस स्कीम की मैच्योरिटी तब होगी, जब बेटी 21 साल की हो जाएगी। इसमें जमा किए गए पैसे को बेटी के 18 साल की होने से पहले निकलवाया नहीं जा सकता। 18 साल के बाद जमा राशि का 50 फीसदी हिस्‍सा ही निकाला जा सकता है। जब बेटी के 21 साल के हो जाएगी तब पूरा पैसा मिल जाएगा। पैसे को आप एकमुश्त या फिर किश्तों में ले सकते हैं। आप एक साल में एक बार ही पैसा निकाल सकेंगे। अधिकतम 5 सालों की किश्त में पैसा निकाल सकते हैं।

Leave a Comment